मिलावटखोरी पर अंकुश लगाने के लिए करें छापेमारी: जिलाधिकारी

Advertisement

लखनऊ। जिलाधिकारी सूर्य पाल गंगवार की अध्यक्षता में गुरुवार को कलेक्ट्रेट स्थित अटल बिहारी बाजपेयी वीडियों कांफ्रेंसिंग हाल में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग (एफएसडीए) लखनऊ की जिला स्तरीय समिति की बैठक हुई। जिसमें जिलाधिकारी ने आगामी त्योहारों नवरात्रि, दशहरा एवं दीपावली के अवसर पर खाद्य पदार्थों में मिलावटखोरी पर अंकुश लगाने के लिए छापेमारी के निर्देश दिए।

Advertisement

उन्होंने कहा कि आम उपभोक्ताओं एवं व्यापारियों को कैम्प लगाकर विभाग के नियमों के प्रति जागरूक किया जाए। मिलावटखोरों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि होटल एवं रेस्टोरेंट का एफएसडीए की टीम निरीक्षण कर मानक चेक करें। उन्होंने शराब की सभी दुकानों का 31 अक्टूबर तक पंजीकरण कराने का निर्देश दिया। राजधानी में संचालित आटा मिल, राइस मिल, दाल मिल का भी पंजीकरण कराया जाए।

Advertisement

समता मूलक चौराहे के पास बनेगा एक और क्लीन स्ट्रीट फूड हब
जिलाधिकारी ने कहा कि गोमती रिवर फ्रंट पर समता मूलक चौराहे के पास एक और क्लीन स्ट्रीट फूड हब विकसित किया जाए। इसके लिए नगर निगम एवं लखनऊ विकास प्राधिकरण तथा यातायात पुलिस से समन्वय स्थापित करें। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को ताजे एवं स्वच्छ फल तथा सब्जियां उपलब्ध कराने के लिए दुबग्गा स्थित सब्जी मंडी को भी क्लीन एवं फ्रेश फ्रूट एवं वेजीटेबल मार्केट के रूप में विकसित करें। बैठक में एडीएम पूर्वी अमित कुमार, डीसीपी क्राइम पीके तिवारी, अपर जिला पचायत राज अधिकारी जेके गोंड सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

390 जगह छापेमारी में भरे 550 नमूने
सहायक आयुक्त खाद्य एसपी सिंह ने जिलाधिकारी को बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 (15 सितम्बर तक) एफएसडीए ने विशेष अभियानों के दौरान लगभग 5451 निरीक्षण करते हुए 390 स्थानों पर छापेमारी में 550 नमूने लिए। इस दौरान कुल 230 वाद न्यायालय में एवं आठ वाद अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम न्यायालय में दायर किये। न्यायालय ने कुल 166 प्रकरणों में सजा सुनाते हुए लगभग 38 लाख का अर्थदंड लगाया। वर्तमान वित्तीय वर्ष में विभाग ने कुल 1984 नये लाइसेंस तथा 9359 नये पंजीकरण किये।

खाद्य सुरक्षा मानक प्राधिकरण से इन्हें मिला प्रमाणपत्र
सहायक खाद्य आयुक्त ने बताया कि ईट राईट चैलेंज कार्यक्रम के अंतर्गत विभाग ने जनपद के चार प्रमुख प्रतिष्ठित मंदिरों (हनुमान सेतु, इस्कॉन मंदिर, गुरूद्वारा आशियाना एवं गायत्री शक्तिपीठ जानकीपुरम) को खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण ने प्रमाण पत्र दिया है। एफएसडीए ने पीजीआई, केजीएमयू, पुलिस लाइन कैंटीन, विधानसभा कैंटीन, इंट्रीग्रल विश्वविद्यालय सहित कुल सात कैम्पस को ईट राईट कैम्पस के रूप में प्रमाण पत्र दिया है।

उन्होंने बताया कि 1090 चौराहा स्थित चटोरी गली को क्लीन स्ट्रीट फूड हब तथा नवीन सब्जी मंडी स्थल सीतापुर रोड़ सब्जी मंडी को क्लीन एण्ड फ्रेश फ्रूट एण्ड वेजीटेबल मार्केट के रूप में भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण ने प्रमाण पत्र दिया है। राजधानी के 388 प्रमुख प्रतिष्ठानों की हाईजीन रेटिंग भी करायी जा चुकी है।

यह भी पढ़ें:-संभल: बिजली चोरी कर रहे ठेकेदार को पकड़ा, टीम ने की छापेमारी

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.