UP Budget 2022: दूसरे दिन का बजट सत्र हुआ समाप्त , विधानसभा में अखिलेश यादव ने बढ़ते अपराध पर उठाए सवाल, CM योगी ने दिया जवाब

Advertisement

लखनऊ। मंगलवार को यूपी विधानसभा के बजट सत्र का दूसरा दिन पूरा हो गया है। आज सदन में राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा हुई।

Advertisement

विधानसभा में बजट सत्र की कार्यवाही के दूसरे दिन अखिलेश यादव ने कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया। अखिलेश ने कहा, ‘सरकार नई बनी है, लेकिन सदन के नेता पुराने हैं। जो सरकार जीरो टॉलरेंस की बात कर रही हो, वहां महिलाएं सुरक्षित नहीं। सरकार घटनाओं को लेकर सीरियस नहीं है। प्रयागराज में पूरे परिवार का मर्डर हो जाता है और अपराधी पकड़े नहीं गए। सरकार क्या कर रही है? क्या थाने ऐसे अराजकता का केंद्र बन जाएंगे?

Advertisement

सीएम योगी ने सवालों का जवाब देते हुए कहा कि यूपी में अपराध किसी भी तरह का हो, वह क्षम्य नहीं है। खासतौर पर महिला संबंधी अपराध में सरकार कठोरता से कार्रवाई कर रही है। ये भारतीय जनता पार्टी की सरकार है। यहां अपराधियों के बारे में ये नहीं कहा जाता कि ‘लड़के हैं गलती कर देते हैं…।’ नेता प्रतिपक्ष ये जानते हैं और स्वीकार करते हैं कि कार्रवाई हुई है।

  • रविदास मेहरोत्रा का कहा कि 2017 से 2022 तक बिना प्रक्रिया के काम दिया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि देश के कई प्रदेशों से ब्लैक लिस्टेड है कंपनी को काम दिया गया।
  • विधानसभा में पूर्व मंत्री रविदास मेहरोत्रा ने जल जीवन मिशन के ठेके पर सवाल उठाए गए हैं। उनपर 17000 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप लगा है। बोगस और फर्जी कंपनी को टेंडर देने का आरोप लगा है।
  • बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने राज्यपाल के अभिभाषण पर सवाल उठाया है। मायावती ने कहा है कि विधानसभा के संयुक्त सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण में सरकार को हर प्रकार की क्लीन चिट कितना उचित है? जनहित और विकास आदि के भारी-भरकम सरकारी दावों की सार्थकता तभी होगी जब जमीनी हकीकत से मेल खाते हुए दिखाई दे।
  • सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने विधानसभा में कानून व्यवस्था का मुद्दा उठाया, उन्होंने कहा कि कोई कल्पना नहीं कर सकता की ये वही यूपी है यहां जीरो टॉलरेंस की बात हो रही है। उन्होंने 19 साल की युवती से हुई दुष्कर्म की घटना का जिक्र किया।
  • मनोज कुमार पांडे ने कहा कि ये विधानसभा सत्र 23 मई से 31 मई तक होगा। लेकिन हर साल विधानसभा का तीन सत्रों में मिलाकर 90 दिन का सत्र होता रहा है। पूर्व में करीब हर साल बजट सत्र 30 दिनों का रहा है, ऐसे में ये बजट सत्र भी 30 दिनों का होना चाहिए।
  • यूपी विधानसभा के दूसरे दिन ऊंचाहार विधान सभा सीट से विधायक मनोज कुमार पांडे ने इस बार छोटे विधानसभा सत्र को लेकर प्रश्न उठाया।
  • अखिलेश यादव ने कहा कि लताजी ने न सिर्फ हिंदी बल्कि अंग्रेजी, रशियन सहित और भाषाओं में गाना गाया। शायद इतना गाना कोई नहीं गाया होगा। भारत के जितने भी अवार्ड थे, उन्हें मिला। मैं आज सदन और अपनी पार्टी की तरफ से शोक संवेदना व्यक्त करता हूं।
  • ओमप्रकाश राजभर ने भी पूर्व में हुए सदस्यों के निधन पर शोक जताया।
  • भारत रत्न लता मंगेशकर को भी विधानसभा में श्रद्धांजलि दी गई। उनको श्रद्धांजलि देते हुए सीएम योगी ने कहा कि मैं इश्वर से उनकी शांति की कामना करता हूं। उनके परिजनों और शुभचिंतकों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त करता हूं।
  • करीब 12:25 बजे प्रश्न काल का समय समाप्त हुआ। पूर्व विधायकों के निधन पर विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने शोक जताया।
  • प्राइवेट स्कूलों में मिलने वाली किताबों के रेट फिक्स होने की आवाज उठी। बढ़ती फीस का भी मुद्दा गूंजा।
  • प्रसन्न कुमार ने परिषदीय स्कूलों में मिड डे मील की क्वालिटी पर सपा ने सवाल उठाया। जवाब मिला कि क्वालिटी अच्छी है।
  • सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने सरकारी स्कूल में मिलने वाले ड्रेस के पैसे पर चर्चा करते हुए प्रश्न उठाया है। उन्होंने कहा कि मंत्री मुझे उस दुकान के बारे में बता दें यहां 1100 रूपए में बच्चों की दो ड्रेस आ सकें। अखिलेश यादव ने सवाल करते हुए कहा कही बच्चों की डीबीटी बंद तो नहीं कर दी गई।
  • बेसिक शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार 1100 रूपए केवल दो ड्रेस, दो जूते, दो मोजे और बैग के लिए देती है। इसमें किताब और कॉपी शामिल नहीं है।
  • आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि डीबीटी के माध्यम से सरकार हर बच्चों को 1100 रूपए देती है। इस राशि में दो ड्रेस, जूते, मोजे और किताब-कॉपी मिल पाना बिल्कुल असंभव है।
  • रामपुर खास से विधायक आराधना मिश्रा मोना ने विधानसभा में सरकारी स्कूल में बच्चों के ड्रेस और किताब का मुद्दा उठाया।

पढ़ें- यूपी में राज्यसभा चुनाव के लिये आज से नामांकन शुरू, BJP को आठ सीटें मिलना तय

 

 

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.