रायबरेली: NTPC में बिजली उत्पादन कम, बढ़ा बिजली संकट

रायबरेली। एनटीपीसी (NTPC) में बिजली उत्पादन घटने से पूरे प्रदेश में बिजली का संकट खड़ा हो गया है। इस कारण रायबरेली में बिजली कटौती की जा रही है। जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में इस समय 6 घंटे, तहसीलों में चार घंटे और शहर में दो घंटे बिजती कटौती की जा रही है।

Advertisement

जर्जर बिजली व्यवस्था ने बढ़ाई मुसीबत

दशकों पुराने जर्जर ढांचा सुधारने का कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। यहीं कारण है कि बिजली उत्पादन की कमी से बिजली व्यवस्था और खराब हो गई है। इन समस्याओं से दूर पावर कॉर्पोरेशन अभियंता चेकिंग अभियान चलाकर लगातार छापा मार रहे हैं, लेकिन लाइनलास नहीं रुक रहा है।

जिले में नहीं किया जा रहा आदेश का पालन

प्रदेश सरकार ने विद्युत आपूर्ति के समय होने वाले फॉल्ट को 24 घंटे में ठीक करने का आदेश दिया है, लोकिन जिले में इसका पालन नहीं किया जा रहा है। लोगों को सारी रात अंधेरे में गुजारनी पड़ती है।

सलोन तहसील की हालत बुरी

बता दें कि सलोन तहसील क्षेत्र के विद्युत उपकेंद्र करहिया और सलोन तहसील के अलावा परशदेपुर और छतोह विद्युत उपकेंद्र से जुड़े गांवों की हालत दयनीय है। बमुश्किल आठ से दस घंटे ही बिजली मिल रही है। अवर अभियंताओं को तैनाती स्थल पर रहने के निर्देश तो दिए गए हैं, लेकिन यह आदेश महज हवा-हवाई ही है। यहीं नहीं कई-कई दिन अवर अभियंता उपकेंद्रों से गायब रहते हैं।

पावर कॉर्पोरेशन के अधीक्षण अभियंता वाईएन राम का कहना है कि बिजली की मांग बढ़ने की वजह से कुछ समस्याएं जरूर आ रही है, लेकिन उपभोक्ताओं को तकलीफ नहीं हो इसके प्रयास किए जा रहे हैं। अवर अभियंताओं को इसके लिए निर्देशित कर दिया गया है। यदि कोई लापरवाही करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *