हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल ने पत्नी के साथ किये रामलला के दर्शन, कहा- अयोध्या की तरह सुलझेगा काशी और मथुरा का मसला

Advertisement

अयोध्या। हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेंद्र विश्‍वनाथ आर्लेकर शुक्रवार को पत्नी के साथ अयोध्या दर्शन को पहुंचे। सबसे पहले उन्होंने रामलला का दर्शन किया। भगवान राम की आरती उतारने के बाद मंदिर निर्माण कार्य की प्रगति को भी समझा। उन्होंने कहा कि जैसे रामलला का मसला सुलझ गया है वैसे ही आने वाले समय में काशी और मथुरा का भी मसला सुलझ जाएगा।

Advertisement

रामलला के मुख्य अर्चक सत्येंद्र दास ने राज्यपाल को रामनामी ओढ़ाई। इसके बाद उनसे रामलला की पूजा करवाई। हनुमानगढ़ी में दर्शन करने पहुंचे राजेंद्र विश्‍वनाथ ने परिक्रमा भी की। उन्होंने कहा कि रामलला का दर्शन करके आया हूं। इसका मैं शब्दों में वर्णन नहीं कर सकता। बहुत दिनों से इच्छा थी की रामलला और हनुमानगढ़ी पर आकर दर्शन करूं आज वह फलित हो गई है। आस्था रखने वाले पूरे विश्व भर के लोग चाह रहे हैं कि वे एक बार रामलला का दर्शन अवश्य करें।

Advertisement

सौभाग्य मिला है कि मैं पत्नी के साथ यहां दर्शन कर रहा हूं। अच्छी बात है इस परिसर का जिस तरह से निर्माण होना चाहिए उस तरह से हो रहा है। रामलला और हनुमान जी हमारे देश के सनातन संस्कृति के प्रतीक हैं। अयोध्या के जो निवासी हैं उनका इसमें जो सहयोग रहा है वह अतुलनीय है। हम सब पर हमेशा हनुमान जी और राम लला का कृपा बनी रहे। साथ ही मनोकामना है कि काशी और मथुरा के मामला भी अयोध्या की तरह सुलझ जाए।

यह भी पढ़ें:-सीएम योगी पहुंचे अयोध्या, रामलला के दर्शन के बाद बसंती के घर खाया खाना

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.