लखनऊ : राज्यमंत्री ने शराब की बिक्री से प्रदेश का राजस्व बढ़ने के दिए निर्देश

Advertisement

लखनऊ, अमृत विचार । आबकारी राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नितिन अग्रवाल ने कहा कि शराब की बिक्री बढ़ाकर प्रदेश का राजस्व बढ़ाया जाय। छह माह में वार्षिक राजस्व लक्ष्य 42,500 करोड़ के सापेक्ष 20,500 करोड़ राजस्व अर्जन का लक्ष्य हर हाल में पूरा किया जाय। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार से भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। आबकारी राज्यमंत्री शुक्रवार को गन्ना संस्थान में छह माह की कार्ययोजना के संबंध में विभागीय कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।

Advertisement

उन्होंने कहा कि प्रवर्तन के कार्य को और कारगर बनाया जाय। अवैध मदिरा के उत्पादन पर पूरी तरह से अंकुश लगायें, साथ ही, दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाय। उन्होंने कहा कि राजस्व अर्जन में आबकारी विभाग का प्रमुख स्थान है। सरकार की प्रभावी नीतियों के तहत पिछले पांच वर्षों में आबकारी विभाग द्वारा उल्लेखनीय राजस्व अर्जित किया गया है।

Advertisement

उन्होंने दूसरे पड़ोसी राज्यों से बिना सीमा शुल्क दिये आ रही मदिरा के व्यापार पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने के निर्देश दिये। इसके साथ ही दुकानों की नियमित चेकिंग सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिये। बैठक में अपर मुख्य सचिव आबकारी संजय आर. भूसरेड्डी, आबकारी आयुक्त सेंथिल पंडियन सी, अपर आबकारी आयुक्त दिव्य प्रकाश गिरि, अपर आबकारी आयुक्त डॉ योगेन्द्र सिंह, संयुक्त आबकारी आयुक्त राजेश मणि त्रिपाठी के साथ अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें –बरेली: अपना दल एस को मिला राज्य स्तरीय दर्जा, अगले महीने से बनाएगी कार्यकर्ता

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.