उन्नाव: प्रेमी जोड़े की पहले हत्या की, बाद में एसिड से जला दिया, कुत्ता हाथ का पंजा लेकर गांव पहुंचा तो मचा हड़कंप

उन्नाव। यूपी के उन्नाव में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां एक प्रेमी जोड़े की हत्या करने के बाद उसके ऊपर एसिड डालकर जला दिया गया। जिसके कारण उनकी शिनाख्त नहीं हो पाई। बताया जा रहा है कि यह दोनों (युवक-युवती)12 अक्टूबर से गायब थे।

Advertisement

वहीं, एसिड डालने की वजह से दोनों के शव कंकाल बन चुके हैं। यह शव करीब हफ्ते भर पुराने की लग रही है। दोनों के कपड़े भी बुरी तरह से जले हुए थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक दोनों शवों की शिनाख्त कपड़े, चप्पल और मोबाइल से की गई है।

कुत्ता हाथ का पंजा लेकर गांव में पहुंचा तो मचा हड़कंप…

दरअसल, मामला बांगरमऊ कोतवाली के भिखरियापुर गांव की है। पुलिस के मुताबिक मृतक युवक का नाम बालकिशन (22) है। जबकि युवती की उम्र महज 16 वर्ष बताई जा रही है। यह दोनों लोग 12 अक्टूबर से गायब थे। परिवार वालों का कहना है कि उन्होंने दोनों को बहुत ढूंढा मगर कहीं नहीं मिले। हालांकि युवक के परिवार वालों ने लड़की के परिवार वालों पर हत्या का आरोप लगाया है। बताया जा रहा है कि मंगलवार को एक कुत्ता हाथ का पंजा लेकर गांव में पहुंचा। युवक के परिवार वालों ने जब देखा तो उन्होंने पंजे को पहचान लिया। कहा कि यह तो उनके बेटे का है। इसके बाद दोनों की तलाश तेज हो गई। गांव वालों ने जब खेत में दोनों के शव को ढूंढ लिया तो, पुलिस को इसकी सूचना दी गई।

शिनाख्त न हो सके, इसलिए एसिड से भी जला दिया

सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब शवों के देखा तो पता चला कि दोनों के शवों को एसिड से जलाया गया है। ऐसा इसलिए किया गया, ताकि दोनों की शिनाख्त न हो सके। एसिड की वजह से दोनों का शव लगभग कंकाल में बदल चुका था। मगर कपड़े, मोबाइल और चप्पलों से उनकी शिनाख्त हो गई। गांव के लोगों के मुताबिक, दोनों (लड़के-लड़की) को लापता हुए एक हफ्ते से ज्यादा हो गए था। दोनों के परिवार के लोगों ने कई जगह ढूंढने की बात भी कही थी। लेकिन कहीं नहीं मिले। किसी को क्या पता था कि गांव से महज 800 मीटर की दूरी पर ही इनके कंकाल पड़े मिलेंगे।

पुलिस ने दोनों परिजनों की तहरीर को नहीं लिया गंभीरता से

परिवार वालों की माने तो 12 अक्टूबर को दोनों के लापता होने के बाद परिजनों ने थाने में तहरीर दी थी। लड़के के परिजनों ने मारपीट कर हत्या की आंशका जताई थी। जबकि लड़की के परिजनों ने लड़के के ऊपर उसे भगा ले जाने का आरोप लगाया था। मगर पुलिस ने दोनों की तहरीर को गंभीरता से नहीं लिया।

Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *