कौन हैं वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियन निकहत जरीन? मैरी कॉम से भिड़ीं और फेडरेशन से भी टकराई! अब देश को दिलाया स्वर्ण पदक

Advertisement

नई दिल्ली। भारतीय महिला मुक्केबाज निकहत जरीन ने गुरुवार को इतिहास रच दिया। उन्होंने वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता है। 52 किग्रा. कैटेगरी में निकहत ने थाईलैंड की जिटपॉन्ग जुटामस को 5-0 से करारी शिकस्त दी। इस जीत के साथ जरीन विश्व चैंपियन बनने वाली सिर्फ पांचवीं भारतीय महिला मुक्केबाज बन गई है।

Advertisement

Image

Advertisement

ये कारनामा करने वाली 5वीं भारतीय मुक्केबाज बनीं
जरीन विश्व चैंपियन बनने वाली पांचवीं भारतीय महिला मुक्केबाज गई हैं। उनसे पहले ये कारनामा छह बार की चैंपियन एमसी मैरीकोम (2002, 2005, 2006, 2008, 2010 और 2018), सरिता देवी (2006), जेनी आरएल (2006) और लेखा केसी कर चुके हैं।

Image

13 साल की उम्र में की बाक्सिंग से दोस्ती
निकहत जरीन का जन्म तेलंगाना के निजामाबाद में 14 जून 1996 को हुआ था। उनके पिता का नाम मुहम्मद जमील अहमद और माता का नाम परवीन सुल्ताना है। इस भारतीय स्टार ने 13 साल की उम्र में बाक्सिंग ग्ल्बस से दोस्ती कर ली थी। जरीन भारतीय मुक्केबाजी की लीजेंड एमसी मैरीकाम को अपना आदर्श मानती हैं। निकहत की लीजेंड एमसी मैरीकाम से कई बार भिड़ंत भी हुई है।

Image

निकहत जरीन कौन हैं?,जिनका विवादों से रहा गहरा नाता
निकहत जरीन हमेशा से ही अपने हक के लिए लड़ती आई है। वो अपने करियर एक बार फेडरेशन और अपनी आदर्श मैरीकॉम से भी लड़ चुकी है। भारतीय बॉक्सिंग फेडरेशन ने छह बार की वर्ल्ड चैंपियन एमसी मैरीकॉम कोटोक्यो ओलंपिक में बगैर ट्रायल के 51 किग्रा कैटेगरी के लिए सेलेक्ट किया था। तब चेयरमैन राजेश भंडारी ने कहा था कि निकहत को भविष्य के लिए सेव कर रहे हैं। ऐसे में निकहत ने इसके खिलाफ आवाज उठाते हुए खेल मंत्री किरण रिजिजू को पत्र लिखा था। इस पूरे विवाद के बाद मैरीकॉम का ट्रायल हुआ था। उनका मुकाबला निकहत से कराया गया, जिसमें मैरीकॉम ने जीत दर्ज की थी। इन दोनों बॉक्सर के बीच टशन इतना था कि जीत के बाद मैरीकॉम ने निकहत से हाथ भी नहीं मिलाया था। जब निकहत ने टोक्यो ओलंपिक के लिए ट्रायल की मांग की थी, तब मैरीकॉम ने प्रेस के सामने पूछा था, ‘निकहत जरीन कौन है?’ अब वर्ल्ड चैम्पियनशिप जीतने के बाद जरीन ने उन्हें जवाब दिया है। बताया है कि निकहत वर्ल्ड चैम्पियन है।

ये भी पढ़ें : World Boxing Championships: निकहत ने बढ़ाया देश का मान, विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में जीता स्वर्ण

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.