संस्कृति, सभ्यता के मान बिन्दुओं की रक्षा करेगा उत्तर प्रदेश: मुख्यमंत्री योगी

Advertisement

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने रविवार को कहा कि उनका राज्य विकास के हर क्षेत्र में अग्रणी होने के साथ ही अपनी संस्कृति और सभ्यता के मान बिन्दुओं की रक्षा के लिए भी आगे रहेगा। योगी आदित्यनाथ ने यहां राष्ट्रवादी विचारधाराओं को प्रोत्साहित करने वाली पत्रिका पांचजन्य एवं आर्गनाइज़र के 75वें वर्ष के मौके पर आयोजित मीडियामंथन कार्यक्रम में वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्‍यम से संबोधित करते हुए उक्त बात कही।

Advertisement

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश की आत्मा है। इस धरती में भगवान राम और कृष्ण ने जन्म लिया और लीला की। यहां बाबा विश्वनाथ जी की कृपा बरसती है। रामायण सर्किट, बौद्ध सर्किट, आध्यात्मिक सर्किट का केंद्र बिंदु उत्तर प्रदेश है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश को देश के विकास का बैरियर माना जाता था। गत पांच साल में राष्ट्रवादी ईमानदार सरकार कैसे परिणाम दे सकती है, यह दिखाया। उत्तर प्रदेश अनेक क्षेत्रों में नंबर एक आ गया है। पहले राज्य में 700 से ज्यादा दंगे हुए लेकिन अब उत्तर प्रदेश दंगा मुक्त हो गया है। पांच साल से कोई दंगा नहीं हुआ। राज्य की बेटियां सुरक्षित हैं।

Advertisement

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस बार रामनवमी और हनुमान जयंती पर शांति रही। अलविदा और ईद नमाजें सड़कों पर नहीं हुईं। एक लाख से अधिक माइक उखाड़ दिये गये। बीते 70 वर्षों में उत्तर प्रदेश देश में छठवीं अर्थव्यवस्था बन पाया। पांच साल में उत्तर प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय दोगुनी हो गई है। 44 योजना में उत्तर प्रदेश पहले नंबर का राज्य बन गया है। उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे प्रदेश बन गया है। सबसे ज्यादा मेट्रो यहां है। सबसे ज्यादा नौ हवाई अड्डे हैं जिनमें पांच अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे हैं। बाढ़ तीन या चार जनपदों तक रह गई है। राज्य का पहला डाटा सेंटर नोएडा में खुला है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास के साथ सभ्यता और संस्कृति के अवैध बूचड़खाने बंद कराये गये हैं। हजारों गौ आश्रय स्थल बनाये गये हैं। वाराणसी में गोवर्धन योजना में गोबर से गैस बनाने का काम हो रहा है। एक रुपये प्रति किलोग्राम की दर से गोबर खरीदा जा रहा है। कुपोषित बच्चों और माताओं के लिए एक गाय और हर माह 900 रुपये दिए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बन रहा है, काशी विश्वनाथ धाम काॅरीडोर बन गया है। ब्रजतीर्थ विकास बोर्ड बन गया है। मां विंध्यवासिनी धाम काॅरीडोर बन रहा है। उत्तर प्रदेश की पौराणिक ऐतिहासिक पहचान का नवीन कायाकल्प हो रहा है। यही नया उत्तर प्रदेश है।

यह भी पढ़ें:-अवैध खनन और कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ बरतेंगे और सख्ती : मुख्यमंत्री योगी

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.