पीलीभीत: फसल की रखवाली कर रहे मजदूर की संदिग्ध हालात में मौत, परिवार में मचा कोहराम

Advertisement

पीलीभीत, अमृत विचार। खेत में धान की रखवाली करने गए मजदूर की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। उसका शव मिलने के बाद हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। त्योहार से एक दिन पहले मौत से मजदूर के परिवार में मातम छा गया। सभी का रोकर बुरा हाल रहा।

Advertisement

गजरौला थाना क्षेत्र के गांव महद खास निवासी धर्मेंद्र ने बताया कि उनके पिता रामऔतार पुत्र बालकराम (45) मजदूरी करते थे। वहजंगल के पास एक खेत पर लगी धान की फसल की रखवाली करने मजदूरी पर मंगलवार शाम करीब चार बजे गए थे। खेत पर टांड बना हुआ है जिस पर चढ़कर धान की फसल की रखवाली किया कतरे थे। बुधवार शाम तीन बजे जब परिवार के सदस्य खेत पर पहुंचे तो रामऔतार मृत मिले। इसकी सूचना मिलने पर परिवार में कोहराम मच गया। मौके पर बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए। इसके बाद पुलिस भी सूचना मिलने पर पहुंच गई। घटना गजरौला थाना और दियोरिया कोतवाली पुलिस के बीच सीमा विवाद में फंसकर रह गई।

Advertisement

काफी देर तक दोनों थानों की पुलिस सीमा तय करती रही। उसके बाद गजरौला पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के दो बेटे धर्मेंद्र और गुड्डू हैं। दस साल की बेटी सरिता देवी है। मृतक इकलौता भाई था। रक्षाबंधन से पहले हुई भाई की मौत से बहन चंद्रकली का रोकर बुरा हाल रहा। इंस्पेक्टर आशुतोष रघुवंशी ने बताया कि धान की रखवाली कर रहे मजदूर की मौत हुई है। शव पोस्टमार्टम को भेज दिया है। पीएम रिपोर्ट मिलने पर ही मौत की वजह स्पष्ट हो सकेगी। उसी आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें- पीलीभीत: दुष्कर्म पीड़िता को पुलिस ने भगाया, बिना जांच के ठहरा दिया गलत

 

 

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.