पीलीभीत: अब एल्कोहल की पुष्टि के लिए बिसरा जांच कराएगी पुलिस

Advertisement

पीलीभीत, अमृत विचार। आत्महत्या और हत्या में उलझा सर्राफ की मौत का मामला पुलिस पांच दिन बीतने के बाद भी सुलझा नहीं सकी है। परिवार वाले हत्या बता रहे हैं, जबकि पुलिस का जोर खुदकुशी की तरफ है। हालांकि दोनों पक्ष वजह को लेकर चुप्पी साधे हुए हैं। साक्ष्य जुटाने के लिए एक कदम और पुलिस ने उठाया है। सर्राफ के बिसरा को पुलिस ने एल्कोहल की पुष्टि के लिए जांच को भेजने का मन बनाया है। वही, विवादों को लेकर भी पड़ताल कराई जा रही है।

Advertisement

शहर के मोहल्ला आसफजान निवासी अरुण गोयल के भाई सर्राफा व्यापारी पवन गोयल का शव गोली लगी हालत में अपनी ही कार में मिला था। घटना गुरुवार रात को कचहरी के आगे हुई थी। परिवार वालों ने अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई। इस बहुचर्चित मामले में पुलिस की छानबीन चल रही है। मगर, हत्या की रिपोर्ट दर्ज करने के बाद की गई सुरागरसी में पुलिस को खुदकुशी के साक्ष्य अधिक मिल रहे हैं। ऐसे में मामला खुदकुशी और हत्या के बीच फंसकर रह गया है। पुलिस ने साक्ष्य जुटाने को व्यापारी के रिवाल्वर समेत अन्य साक्ष्य को फारेंसिक जांच के लिए भेजा है।

Advertisement

सर्राफ द्वारा घटना की रात अंग्रेजी शराब की दुकान से एक पौवा खरीदने की जानकारी मिली थी। अब उसने नशा किया या नहीं। इसका पता लगाने पर भी कदम उठाए जा रहे हैं। सराफ का बिसरा पहले ही सुरक्षित करा लिया गया था। अब उसे भी परीक्षण के लिए भेजने की तैयारी है, ताकि एल्कोहल को लेकर भी पुष्टि की जा सकी। इसके अलावा छानबीन को लगाई गई टीमें भी कुछ खास क्लू अलग से नहीं जुटा सकी है। परिवार के कुछ सदस्यों से पुलिस संपर्क साधने का मन बना रही है, ताकि कुछ नए तथ्य निकलकर सामने आ सकें।

ये भी पढ़ें- पीलीभीत: केशव अग्रवाल बने अध्यक्ष, अरशद बने महामंत्री

 

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.