पीलीभीत: पिता के डांटने पर ही कलयुगी बेटे ने की हत्या, पुलिस ने हिरासत में लिया

Advertisement

पीलीभीत, अमृत विचार। हंसिया से वार करके बुजुर्ग पिता की जान लेने वाले कलयुगी पुत्र को बरखेड़ा पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बड़े भाई से प्राप्त हुई तहरीर के आधार पर हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई। जिसके बाद पुलिस पूरे मामले की गहनता से छानबीन कर रही है। मगर पुलिस को इसमें कोई बड़ी रंजिश या मनमुटाव वजह के तौर पर नहीं मिल सका है। मामूली फटकार से गुस्साकर ही कलयुगी पुत्र ने पिता को मौत के घाट उतार दिया। अब पुलिस आला कत्ल की बरामदगी को लेकर दौड़ भाग कर रही है।

Advertisement

बरखेड़ा थाना क्षेत्र के गांव मोहम्मद गंज रमपुरा निवासी गनेश प्रसाद (65) को हसिये से वार कर गुरुवार रात उसके ही छोटे बेटे तोताराम उर्फ नन्हू ने मौत के घाट उतार दिया था। परिवार वाले लहूलुहान हालत में बुजुर्ग को लेकर सीएचसी पहुंचे , जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया था। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा और छानबीन में जुट गई थी। मृतक के बड़े बेटे प्रताप सिंह ने घटना की तहरीर दी। जिसके आधार हत्या की धारा में रात में ही एफआईआर दर्ज कर ली गई।

Advertisement

पुलिस ने ताबड़तोड़ दबिश देने के बाद आरोपी बेटे को हिरासत में ले लिया। शुक्रवार को उससे पूरे दिन पूछताछ चलती रही। पुलिस वजह को लेकर भी पता लगाने का प्रयास करती रही। मगर, यह सामने आया कि बुजुर्ग दोनों बेटों संग रहता था। छोटा बेटा अक्सर शराब और अन्य कामकाज के लिए रुपये मांगा करता था। जिसे बुजुर्ग पिता दे भी दिया करते थे। घटना की रात आरोपी ने कुछ रुपये मांगे और फिर परिवार वालों से झगड़ने लगा। इस पर पिता ने डांट फटकार दिया।

इसी से आहत होकर वह हसिया लेकर आया और पिता पर वार कर दिए। जिसमें उनकी मौत हो गई। पुलिस अभी हसिया बरामद नहीं कर सकी है। इसके प्रयास करते हुए कई जगह दबिश भी दी गई। एसओ उदयवीर सिंह ने बताया कि इस मामले में तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। कोई खास रंजिश और विवाद निकलकर नहीं आया है। पिता के फटकारने पर ही घटना को अंजाम दे दिया गया। घटना को गंभीरता से लेते हुए पड़ताल चल रही है, सख्त कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें- पीलीभीत: पुलिस ने तीनों शोहदों को गिरफ्तार कर भेजा जेल, छेड़छाड़ का वीडियो बरामद

 

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.