मुरादाबाद : ‘तिरंगे की आन-बान-शान पर मर मिटने का लें संकल्प’

आजादी का अमृत महोत्सव : प्रमुख शिक्षाविद् और बुद्धिजीवियों ने किया घर-घर तिरंगा फहराने का आह्वान

Advertisement

मुरादाबाद,अमृत विचार। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर हर घर तिरंगा, घर-घर तिरंगा केवल अब एक कार्यक्रम नहीं जन आंदोलन का रूप ले रहा है। सबके दिलों में राष्ट्रीयता, देशभक्ति का जज्बा बढ़ाने के लिए मनाए जा रहे महोत्सव का रंग पीतलनगरी के लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। घर-घर तिरंगा लगाकर इसकी आन-बान-शान की रक्षा और देश को एकसूत्र में पिरोए रखकर बलिदानियों के त्याग को बेकार न जाने देने के आह्वान में समाज एकजुट है। प्रशासनिक अधिकारी, शहर के प्रमुख शिक्षाविद्, बुद्धिजीवियों ने आह्वान कर कहा कि देश का हर नागरिक भाग्यशाली है कि उसे आजादी के इस जश्न को मनाने का गौरव मिला है।

Advertisement

आजादी के अमृत महोत्सव में हर घर तिरंगा कार्यक्रम को मिलकर सफल बनाएं

Advertisement

देशभक्ति से बड़ा कोई धर्म नहीं। अंग्रेजों की गुलामी से देश को आजाद कराने में महापुरुषों, देश के वीर जाबांजों ने अपने प्राणों को सहर्ष न्योछावर कर दिया। हमें उन मूल्यों की रक्षा करनी होगी। देशभक्ति का भाव हर नागरिक के दिल में होना ही नहीं दिखना भी चाहिए। आजादी के अमृत महोत्सव में हर घर तिरंगा कार्यक्रम को मिलकर सफल बनाने की जिम्मेदारी हम सभी के कंधे पर है। इस राष्ट्रीय फर्ज को निभाने के लिए l सभी लोग आगे आएं। -सुरेश जैन, कुलाधिपति, टीएमयू

आजादी के वर्षों बाद अब हमें इस संकल्प को साकार करना होगा कि देश में कोई भूखा न रहे। शहीदों के सपनों का भारत बनाने के लिए सभी को एकसाथ मिलजुल कर काम करना होगा। राष्ट्रहित के लिए अपने निजी हित को परे करना ही सर्वथा उचित है। भेदभाव रहित समाज का निर्माण ही भारत की असली पहचान है। सभी घरों पर तिरंगा फहराकर राष्ट्रीय प्रेम की भावना का संचार करें। हम एक दूसरे के साथ मिल जुलकर रहें, पूरा विश्व इस समय भारत की ओर देख रहा है। -वाईपी गुप्ता, ट्रस्टी एमआईटी ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस

बड़ी कुर्बानी के बाद आजादी मिली है। सीमा पर तैनात जाबांजों के दम पर आजादी सुरक्षित है। हमें एकजुटता के बल पर ही इस आजादी को बनाए रखना है। अमृत महोत्सव में मनाए जा रहे हर घर तिरंगा कार्यक्रम में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी हमें निभानी होगी। घर-घर तिरंगा लहराएं और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करने के फर्ज को निभाएं। सभी में राष्ट्रप्रेम की भावना जाग्रत करें। -एमपी पांडेय, कुलपति, आईएफटीएम विश्वविद्यालय

देश की एकता, अखंडता की रक्षा करना केवल सैनिकों, वर्दीधारियों का ही काम नहीं, यह हर नागरिक का कर्तव्य है। आजादी के अमृत महोत्सव में हर घर तिरंगा कार्यक्रम में प्रशासन के साथ बेसिक शिक्षा विभाग कदमताल कर रहा है। शिक्षकों के बनाए झंडे दूसरे विभागों में भी बांटने के लिए दिया गया है। हर घर पर तिरंगा लगाकर राष्ट्रीयता की भावना, वीर शहीदों को नमन करने और राष्ट्रीय प्रतीकों के प्रति सम्मान दिखाने का गौरव हमें मिला है। -बुद्ध प्रिय सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी

घर-घर तिरंगा अभियान को लेकर छात्र छात्राएं, शिक्षक, शिक्षाधिकारी, कर्मचारी उत्साहित हैं। तिरंगा यात्रा में सभी ने बढ़ चढ़कर सहभागिता की है। 17 अगस्त तक पूरे जिले में यह आयोजन उल्लास के साथ मनाया जाएगा। कॉलेजों के प्रधानाचार्य, प्रबंधक आदि अपने स्तर से झंडा वितरण करने और हर घर तिरंगा लगाने में प्रेरित करने में लगे हैं। सभी नागरिक जात-पात, धर्म, क्षेत्र का भेद छोड़कर राष्ट्रहित में काम करें। -डॉ. अरुण कुमार दुबे, जिला विद्यालय निरीक्षक

ये भी पढ़ें : 1920 में हुए अधिवेशन के बाद चर्चा में आया था मुरादाबाद, पढ़ें पूरी खबर

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.