Site icon Amrit Vichar

मुरादाबाद : फर्नीचर के रुपये मांगे तो एसडीएम ने कारोबारी के घर पर चलवाया बुलडोजर, दी बर्बाद करने की धमकी

image from moradabad

मुरादाबाद, अमृत विचार। बिलारी के एसडीएम घनश्याम वर्मा ने फर्नीचर के 2.68 लाख रुपये मांगने पर कारोबारी के घर पर बुलडोजर चलवा दिया। कारोबारी का आरोप है कि उसने एसडीएम की बेटी हरदोई की डिप्टी जेलर अलका के घर भी फर्नीचर पहुंचाया है।  इधर, फर्नीचर कारोबारी की शिकायत पर कमिश्नर आन्जनेय कुमार सिंह ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। कमिश्नर के निर्देश पर एडीएम प्रशासन ने जांच शुरू कर दी है। एसडीएम से भी स्पष्टीकरण तलब किया गया है। वहीं कमिश्नर के आदेश पर एडीएम प्रशासन सुरेंद्र सिंह मामले की जांच करने शुक्रवार को बिलारी पहुंचे हैं। एडीएम का कहना है कि वह पूरे मामले की विस्तृत जांच कर रहे हैं।

फर्नीचर कारोबारी जाहिद अहमद का आरोप है कि जब वह फर्नीचर का 2.67 लाख रुपये का बिल लेकर एसडीएम के आवास पर गए तो एसडीएम ने उन्हें बर्बाद करने की धमकी दी। जाहिद ने इसकी शिकायत अधिकारियों से की तो एसडीएम ने अपने चपरासी को जाहिद के घर भेजकर फिर से अंजाम भुगतने की धमकी दी। इसके थोड़ी देर बाद ही जाहिद के घर को गिराने का नोटिस भेज दिया गया।

जाहिद का आरोप है कि 12 जुलाई की शाम को एसडीएम ने तहसीलदार को बुलडोजर लेकर उनके घर भेज दिया। घर की एक दीवार गिरा भी दी गई। फर्नीचर कारोबारी ने अधिकारियों को फोन किया तो बुलडोजर एक्शन रुका। वरना एसडीएम फर्नीचर कारोबारी के पूरे घर को ही गिरा देना चाहते थे।

ये भी पढ़ें : अब खेती-किसानी में इतिहास रचेगा मुरादाबाद मंडल