मुरादाबाद मेडिकल स्टूडेंट सुसाइड केस: पुलिस को कमरे से मिला कागज, सैकड़ों बार लिखा था ‘आशीष लव वैशाली’, आशीष समेत दो डॉक्टरों पर FIR

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी (टीएमयू) की मेडिकल छात्रा डॉ. वैशाली चौधरी की मौत के केस में पुलिस ने दो डॉक्टरों आशीष जाखड़ और समर्थ जौहरी पर एफआईआर दर्ज की है। पुलिस के मुताबिक दोनों डॉक्टरों ने टीएमयू से ही मेडिकल की पढ़ाई की है। दोनों पर आईपीसी की धारा 306 (आत्महत्या को उकसाने) में रिपोर्ट दर्ज की गई है। पुलिस अब आगे की जांच पड़ताल में भी जुटी है। बताया जा रहा है कि पुलिस को वैशाली के कमरे से एक कागज भी मिला है। जिस पर सैकड़ों बार अंग्रेजी में ‘आशीष लव वैशाली’ लिखा हुआ है।

Advertisement

पिता की तहरीर पर दर्ज हुआ मुकदमा, छानबीन में कई तथ्य आए सामने
दरअसल, छात्रा वैशाली की मौत के बाद उनके पिता प्रमोद चौधरी ने पाकबड़ा थाना में एक तहरीर दी है। जिसमें उन्होंने कहा कि उनकी बेटी आशीष जाखड़ और समर्थ जौहरी से बातचीत किया करती थी। आरोप है कि इन दोनों के साथ ही उसकी कोई बातचीत हुई। जिससे परेशान होकर उसने आत्महत्या की है। उधर, पोस्मार्टम रिपोर्ट में भी वैशाली की मौत की वजह हैंगिंग आई है। जिसका मतलब है कि वैशाली की मौत लटकने की वजह से हुई है।

कौन है डॉ. आशीष और डॉ. समर्थ?
पुलिस के मुताबिक, शुरुआती छानबीन में पता चला है कि आशीष पूरा नाम डॉ. आशीष जाखड़ है। यह भी हापुड़ का ही रहने वाला है। वैशाली और आशीष एक साथ ही टीएमयू में आए थे। आशीष ने MBBS में और वैशाली ने BDS में यहां एडमिशन लिया था। तब से दोनों के बीच काफी नजदीकियां बताई जा रही है। कहा यह भी जा रहा है कि एमबीबीएस पूरा होने के बाद आशीष चला गया और वहां किसी अस्पताल में जॉब कर रहा है। वहीं, समर्थ के बारे में पुलिस का कहना है कि समर्थ ने भी 2020 में TMU से ही MDS किया है। वैशाली और समर्थ में खूब बातचीत होती थी। वैशाली के पिता ने समर्थ पर भी शक जाहिर किया है।

क्या था वैशाली की मौत का मामला
दरअसल, हापुड़ के शिव नगर कालोनी में रहने वाली डॉ. वैशाली चौधरी टीमएयू (TMU) से MDS (मास्टर ऑफ डेंटल सर्जरी) सेकेंड इयर की पढ़ाई कर रही थीं। सोमवार सुबह करीब 11:30 बजे वैशाली का शव टीएमयू के गर्ल्स हॉस्टल में अपने कमरे में फंदे पर लटका मिला था। वह हॉस्टल की चौथी मंजिल पर रूम नंबर 337 में 2 अन्य छात्राओं के साथ रहती थी। रविवार को वैशाली देहरादून में रहने वाली अपनी पूर्व क्लासमेट डॉ. उर्वशी के साथ हॉस्टल से बाहर गई थी। सोमवार सुबह 8 बजे वह हॉस्टल लौटी थी। जिसके थोड़ी देर बाद ही वैशाली का शव कमरे में फंदे के जरिए पंखे से लटका मिला था।

शादी की भी बात आ रही सामने
बताया जा रहा है कि डॉ. आशीष और डॉ. वैशाली आपस में शादी करना चाहते थे। दोनों एक दूसरे के साथ शादी का कमिटमेंट भी कर चुके थे। मगर कुछ पारवारिक परिस्थितियों की वजह से आशीष शादी के लिए मना करने लगा। जिसकी वजह से वैशाली पिछले करीब एक वर्ष से तनाव में थी।

यह भी पढ़े-

सेना ने राजौरी में मार गिराए 6 आतंकी, एनकाउंटर जारी

Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *