लखनऊ : सीएम योगी ने यूपी की अर्थव्यवस्था को 5 साल में 1 ट्रिलियन डॉलर बनाने की दोहराई बात, किया यह जरूरी काम

Advertisement

लखनऊ, अमृत विचार । उत्तर प्रदेश अनंत संभावनाओं वाला राज्य है लेकिन इसकी क्षमताओं को आगे बढ़ाने के लिए कभी सही प्रयास नहीं हुए। लॉकडाउन की अल्प अवधि को छोड़ दें तो कोविड काल में प्रदेश कभी रुका नहीं। हमारी औद्योगिक इकाइयां लगातार चलती रहीं। ऐसे में हमारे पास मात्र 3 साल ही मिले थे। बावजूद इसके इन सालों में प्रदेश की अर्थव्यवस्था को दोगुना करने में हमने सफलता पाई है। अगर हम ऐसा कर सकते हैं तो 5 साल में 1 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था का लक्ष्य भी जरूर सफल होगा।

Advertisement

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह विचार 1 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य पाने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर कंसल्टेंट एजेंसी ”डेलॉयट इंडिया” और उत्तर प्रदेश सरकार के बीच अनुबंध पत्र हस्ताक्षरित होने के बाद व्यक्त किये। इस लक्ष्य को पाने के लिए मुख्यमंत्री ने ”यूपी फ़ॉर यूपी, यूपी फ़ॉर इंडिया, यूपी फ़ॉर ग्लोबल’ की परिकल्पना की है। कहा कि अब समय उत्तर प्रदेश का है। अपनी क्षमताओं का पूरा लाभ उठाते हुए प्रदेश, देश के बहुआयामी विकास का सबसे महत्वपूर्ण आधार बनेगा। मुख्यमंत्री ने इस अहम लक्ष्य को हासिल करने के लिए 5 साल की समय-सीमा निर्धारित की है। कहा है कि साल 2027 तक उत्तर प्रदेश को 1 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के साथ सबका साथ-सबका विकास की नीति का मानक बनेगा।

Advertisement

योगी ने निर्देश दिया कि अगले 90 दिनों के भीतर डेलॉयट इंडिया संस्था स्थिति के अनुसार सेक्टरवार अध्ययन करते हुए गहन विवेचना के साथ भावी कार्ययोजना प्रस्तुत करे। कार्ययोजना का परीक्षण मुख्य सचिव की अध्यक्षता वाली उच्च स्तरीय समिति द्वारा किया जाएगा। मंत्री समूह द्वारा इसकी समीक्षा भी की जाएगी।

यह भी पढ़ें –कॉमनवेल्थ गेम्स: बजरंग पूनिया ने किया कमाल, कनाडा के पहलवान को हराकर जीता गेल्ड मेडल

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.