कन्नौज: जेल जाने के डर से मामा ने भांजे को उतारा था मौत के घाट, जानें क्या था पूरा मामला

Advertisement

सौरिख/कन्नौज। भांजे की हत्या के आरोपी मामा ने नई बात कह कर लोगों को चौंका दिया। उसे खुद जेल जाने का भय सताने लगा था इसीलिए भांजे की हत्या कर दी। आरोपित के नये बयान से पुलिस के सामने नई गुत्थी सामने आ गई। हालांकि पुलिस ने आरोपित को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। पुलिस के अनुसार आरोपी सूरजपाल ने बताया कि मैनपुरी के थाना एलाऊ के गोपालपुर गांव निवासी सुनील कुमार पुत्र भीखम सिंह जन्म से ही थाना सौरिख के नगला दरियाय गांव में उसके साथ रहता था।

Advertisement

वर्ष 2018 में मां शकुंतला देवी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी गई थी। इसमें उसने बहन की हत्या के आरोप बहनोई भीखम पर लगाये थे। इससे वह जेल में है। रविवार को मैनपुरी के थाना दन्नाहार के ढूरीवरी गांव निवासी मृतक की बहन रीना देवी एवं बहनोई अस्पताल में भर्ती भीखम सिंह को देखने गए थे। वापस आते समय थोड़ी देर मृतक के घर रुके थे। आरोपी ने मृतक के बहनोई रामबरन से फोन पर बात की तो उसने बताया कि सुनील ने रविवार शाम को उसे फोन कर बताया कि मां की हत्या में सूरजपाल एवं एक अन्य का नाम प्रकाश में आया है।

Advertisement

इसी बात को लेकर उसका भांजे से विवाद हुआ। पता चला है कि सुनील ने बहनोई को फोन कर खुद की हत्या की आशंका भी जाहिर की थी। साथ ही किसी से फोन पर बात कर मामा सूरजपाल को जेल भिजवाने की बात कही थी । यह बात पास के मकान में लेटे सूरजपाल के कानों तक पहुंच गई और जेल जाने के भय से उसने कुल्हाड़ी से सुनील की हत्या कर दी। हालांकि सच्चाई क्या है ये तो पुलिस की जांच में पता चलेगा लेकिन इस घटना को लेकर गांव में तरह तरह की चर्चाएं हैं।

यह भी पढ़ें:-बरेली: शहजिल इस्लाम पर दर्ज रिपोर्ट की विवेचना अब क्राइम ब्रांच करेगी

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.