गरमपानी: 2007 में बनी सिंचाई योजना से खेतों में अब तक नहीं पहुंचा पानी, किसान परेशान

Advertisement

गरमपानी, अमृत विचार। पर्वतीय क्षेत्रों के सुदूर गांवों में विभागीय योजनाओं के हाल भी अजब गजब है। लाखों करोड़ों की योजनाएं तो तैयार कर दी जाती है पर गांव के लोगों को लाभ ही नहीं मिल पाता। अल्मोड़ा हल्द्वानी हाईवे पर नावली क्षेत्र में कोसी नदी पर बनी सिंचाई योजना के हालात भी कुछ ऐसी ही हकीकत बयां कर रहे हैं। योजना के बावजूद करीब डेढ़ सौ से ज्यादा धरतीपुत्र पिछले कई वर्षों से सिंचाई के पानी की बूंद-बूंद को तरस रहे है।

Advertisement

वर्ष 2007 में अल्मोड़ा हल्द्वानी हाईवे पर नावली क्षेत्र में कोसी नदी पर करोड़ों रुपये की लागत से समीपवर्ती जनता, बोहरु तथा वलनी गांव के सैकड़ों काश्तकारों के खेतों तक पानी पहुंचाने को लिफ्ट सिंचाई योजना तैयार की गई। उम्मीद थी की किसान लाभान्वित होगे पर विभागीय अनदेखी से महज वलनी गांव में ही सिंचाई का पानी पहुंच पाया। हालांकि जनता व बोहरु गांव तक भी सिंचाई योजना के पाईप पहुंचा दिए गए पर टैंक ना होने से सिंचाई का पानी खेतों तक नहीं पहुंच पाया। सीधे पाइप खेतों तक पहुंचने से इतना तेज पानी गिरा कि खेत खस्ताहाल हो तो चले गए। तेज बहाव से पानी आने से कई किसानों के खेत बर्बाद हो गए। परेशान ग्रामीणों ने सिंचाई करनी बंद कर दी।

Advertisement

ग्रामीणों का आरोप है कि कई बार गांव में टैंक बनाने की मांग उठाई गई पर कोई सुनवाई नहीं हुई। 15 वर्ष होने के बावजूद किसान सिंचाई के लिए बूंदबूंद पानी को मोहताज हो रहे हैं। योजना के बनने से किसानों को उम्मीद जगी थी कि अब वर्षा आधारित खेती से मुक्ति मिल सकेगी पर हालात आज भी जस के तस हैं। सब्जी उत्पादक जनता व बहरु गांव के काश्तकार आज भी वर्षा आधारित खेती पर निर्भर है। बारिश होने पर उपज की बेहतर पैदावार हो जाती है। बारिश ना होने पर मायूसी हाथ लगती है।

ग्रामीण बताते हैं कि गांव में गोभी, शिमला मिर्च, टमाटर, मूली की बंपर पैदावार होती है पर सिंचाई ना होने से उपज चौपट हो रही है। ग्राम प्रधान महेंद्र रावत , कास्तकार कुंवर सिंह, रुप सिंह, दलीप सिंह, राजेंद्र सिंह, पान सिंह, ईश्वर सिंह, लक्ष्मण सिंह, बिशन सिंह, पूरन सिंह आदि ने संबंधित विभाग पर गांव की उपेक्षा का आरोप लगाया है। दो टूक चेतावनी दी है कि यदि जल्द टैंक निर्माण ना हुआ तो ग्रामीण सड़क पर उतरने को बाध्य होंगे।

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.