हरिद्वार: छात्रवृत्ति घोटाले का पर्दाफाश करने वाले पंकज लांबा की गोली लगने से मौत

Advertisement

हरिद्वार, अमृत विचार। उत्तराखंड के सबसे बड़े घोटाले छात्रवृत्ति घोटाले का पर्दाफाश करने वालों में शामिल रहे दलित एक्टिविस्ट पंकज लाम्बा की देर रात एक पार्टी में गोली लगने से मौत हो गई । पुलिस ने इसकी पुष्टि की है। पुलिस ने बताया कि गोली उनके गले में लगी है और जब उनको अस्पताल ले जाया गया तो वहां डॉक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया।

Advertisement

पंकज लाम्बा देर रात टिहरी विस्थापित कॉलोनी में एक परिवार के साथ पार्टी कर रहे थे। परिवार की दो नाबालिग लड़कियां पार्टी में शामिल थीं। इस दौरान पंकज लाम्बा ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल एक नाबालिग लड़की को दे दी और उसने जब गोली चलाई तो उसकी गोली सीधा पंकज लांबा के गले में जा लगी। हालांकि बताया जा रहा है कि पिस्टल खाली कर दी गई थी, लेकिन उसके चैंबर में एक गोली होने के कारण जब नाबालिग लड़की ने गोली चलाई तो उससे हादसा हो गया। हालांकि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Advertisement

बताया जा रहा है कि दोनों लड़कियों के पिता दिल्ली में रहते हैं और उन्होंने दूसरी शादी होने के कारण दोनों बेटियों को हरिद्वार में किराए के मकान पर रखा हुआ था। पंकज जाने-माने दलित एक्टिविस्ट थे और उत्तराखंड का अब तक का सबसे बड़ा घोटाला छात्रवृत्ति घोटाला खोलने में उन्होंने लंबा संघर्ष किया था। छात्रवृत्ति घोटाले में अब तक दर्जनों मुकदमे हो चुके हैं और कॉलेज चलाने वाले कई मालिक जेल जा चुके हैं जबकि कई लोगों पर जेल जाने की तलवार लटकी हुई है।

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.