हल्द्वानी: दरोगा भर्ती – विजलेंस ने मांगी केस दर्ज कराने की इजाजत

Advertisement

हल्द्वानी, अमृत विचार। वर्ष 2015 बैच के दरोगा भर्ती के मामले में विजलेंस ने शासन से केस दर्ज कराने की इजाजत मांगी। माना जा रहा है कि भर्ती में कुमाऊं में कई दरोगा हैं जो विजलेंस के राडार पर हैं। मामले की जांच कुमाऊं विजलेंस कर रही है।

Advertisement

एसपी विजिलेंस प्रह्लाद नारायण मीणा का कहना है कि शासन से उन्हें विजिलेंस जांच किए जाने के निर्देश प्राप्त हुए हैं और प्राथमिक जांच में गड़बड़ी मिली है। लिहाजा केस दर्ज करने के लिए शासन से अनुमति मांगी गई है। एफआईआर दर्ज किए जाने के बाद धीरे-धीरे जांच में उन सभी दारोगाओं के नाम आएंगे, जो गलत तरीके से भर्ती हुए हैं।

Advertisement

बता दें कि 2015 में 339 पदों पर दारोगा की भर्ती हुई थी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर इस भर्ती की गड़बड़ी की शिकायत मिलने के बाद इसकी जांच शासन द्वारा विजिलेंस को सौंपी गई थी, जिसकी शुरुआती जांच अब कुमाऊं विजिलेंस टीम ने शुरू कर दी है। लिहाजा जल्द 2015 में गड़बड़ी कर भर्ती हुए दारोगाओं की गिरफ्तारी हो सकती है।

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.