गुजरात: समुद्र में तेज़ हवा और तूफ़ानी लहरों के चलते 12-15 नौकायें पलटीं, कई मछुआरे लापता

Advertisement

अहमदाबाद/वेरावल। गुजरात के समुद्र तटीय गिर सोमनाथ ज़िले के नवा बंदर के निकट ख़राब मौसम के बीच अचानक बही तेज़ हवा और तूफ़ानी लहरों के चलते समुद्र में एक दर्जन से अधिक नौकाओं के पलट जाने और इन पर सवार 10 से अधिक मछुआरों के डूब जाने आशंका हैं। नवा बंदर पुलिस स्टेशन ने कम से कम पांच नौकाओं के डूबने और आठ मछुआरों के लापता होने की पुष्टि की है।

Advertisement

सूचना के अनुसार तेज़ हवा और अरब सागर में उठी ऊँची लहरों के चलते रात 11 बजे से सुबह तीन बजे के बीच नवा बंदर जेट्टी पर बंधी कम से कम पांच नौकाए डूब गयीं हैं और इन पर सवार आठ लोग लापता हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार यह संख्या केवल जेट्टी के निकट की नौकाओं की है इसलिए कुल संख्या अधिक हो सकती हैं क्योंकि कई नौकाए मछली पकड़ने के लिए पहले से समुद्र में थीं।

Advertisement

गिर सोमनाथ ज़िले के पुलिस अधीक्षक राहुल त्रिपाठी ने भी अब तक पांच से छह नौकाओं के समुद्र में बह जाने और आठ मछुआरों के लापता होने की पुष्टि करते हुए यूएनआई को बताया कि पुलिस और तट रक्षक दल यानी कोस्ट गार्ड्स की संयुक्त टीम तलाशी अभियान में जुटी है। उन्होंने भी नौकाओं और लापता मछुआरों की संख्या और अधिक होने की आशंका से इंकार नहीं किया। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि यह तूफ़ानी प्रणाली स्थानिक प्रकृति की थी यानी केवल नवा बंदर और आसपास तक सीमित थी।

ज़िले के क़रीब 160 किमी के तटीय इलाक़ों में से किसी अन्य से इस तरह की घटना को सूचना अभी तक नहीं है। लापता मछुआरों की खोजबीन की जा रही है। इसके लिए तट रक्षक दल की मदद से व्यापक तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। ज्ञातव्य है कि पश्चिमी विक्षोभ और चक्रवाती प्रणाली और निम्न दबाव के क्षेत्र के चलते गुजरात में पिछले 24 घंटे से बेमौसम की बरसात हो रही है। इस दौरान कुल 151 में से 129 तालुक़ा में बरसात हुई है। सर्वाधिक छह इंच बरसात दक्षिण गुजरात के उमरपाड़ा में हुई है।

इसे भी पढ़ें…

Cyclone Jawad: मौसम विभाग का अलर्ट, दक्षिण रेलवे ने ईसीआर से गुजरने वाली पांच ट्रेनों को किया रद्द

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.