गाजियाबाद: नगर निगम ने बदला नियम, खरीदी गई संपत्ति में अब नाम दर्ज कराना हुआ महंगा

Advertisement

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में खरीदी गयी संपत्ति में अब नाम दर्ज करना महंगा हो गया है। नगर निगम द्वारा नियम बदलने से नामांतरण जेब पर भारी पड़ेगा। खरीदी गयी संपत्ति में बीच में जितनी रजिस्ट्री हुई हैं, उसके हिसाब से हर बार में एक प्रतिशत का चार्ज नगर निगम में जमा कराना होगा। इसके बाद ही दूसरे के नाम प्रॉपर्टी में खरीदार का नाम दर्ज किया जा सकेगा।

Advertisement

गाजियाबाद नगर निगम ने नामांतरण के नियमों में बदलाव किए हैं। पुराने नियम के अनुसार अगर किसी ने आवंटित प्रॉपर्टी का नाम बीच में तीन संपत्ति क्रेताओं के बाद में दर्ज नहीं कराया तो संपत्ति की अंतिम कीमत का एक प्रतिशत पैसा जमा कर निगम जमा कर संपत्ति में नाम दर्ज कराया जा सकता था, लेकिन अब इस नियम में बदलाव कर दिया गया है।

Advertisement

नए नियम के अनुसार अगर किसी ने पहले कभी संपत्ति का नामांतरण किया गया है। मगर उसके बाद से तीन बार से संपत्ति सेल हो चुकी है और चौथीबार संपत्ति क्रेता को प्रॉपर्टी अपने नाम दर्ज कराना चाहता है तो बीच में तीन बार जिस-जिस कीमत पर प्रॉपर्टी खरीदी गई है उन सब का चार बार एक एक प्रतिशत पैसा निगम लेगा।

यह भी पढ़ें:-लखनऊ: भूतनाथ मार्केट में विरोध के बीच नगर निगम ने हटाया अतिक्रमण, व्यापारियों ने लिया यह संकल्प

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.