मनी लांड्रिंग केस में मुख्तार अंसारी पर ED ने कसा शिकंजा, दोनों बेटों से की पूछताछ

Advertisement

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के बांदा जेल में बंद माफिया व पूर्व बहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की मुश्किलें लगातार बढ़ती ही जा रही है। दरसअल मनी लांड्रिंग के मामले को लेकर मुख्तार अंसारी के परिवार पर ईडी का शिकंजा लगातार कसता चला जा रहा है। अब मुख्तार अंसारी के विधायक बेटे अब्बास अंसारी और छोटे बेटे उमर अंसारी से ईडी ने पूछताछ की है। प्रयागराज स्थित ईडी के दफ्तर में मुख्तार के दोनों बेटों से कई घंटे की तक पूछताछ की गई।

Advertisement

अब मुख्तार अंसारी के खिलाफ दर्ज मनी लांड्रिंग केस में परिवार वालों का बयान ईडी की टीम दर्ज कर रही है। इससे पहले शुक्रवार को मुख्तार के दूसरे भाई और बीएसपी सांसद अफजाल अंसारी से करीब 10 घंटे तक पूछताछ हुई थी। मुख्तार के बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी और विधायक भतीजे शोएब अंसारी से भी ईडी पूछताछ कर चुकी है। वहीं नवंबर 2021 में बांदा जेल जाकर मुख्तार अंसारी से भी ईडी कर पूछताछ कर चुकी है।

Advertisement

क्या है मामला?

ईडी ने मार्च 2021 में मुख्तार अंसारी के खिलाफ मनी लांड्रिंग का केस दर्ज किया था। जिसमें 2020 में जाली दस्तावेज तैयार कर सरकारी जमीन पर कब्जे का मुकदमा दर्ज किया गया है। इसके अलावा लखनऊ में धोखाधड़ी कर संपत्ति अर्जित करने और धोखाधड़ी कर विधायक निधि निकालने का मुकदमा दर्ज है। इन्हीं तीनों मुकदमों को आधार बनाकर मुख्तार अंसारी के खिलाफ ईडी ने मनी लांड्रिंग का केस दर्ज किया है। बता दें कि बीते दिनों भी उनके भाई और बसपा सांसद अफजाल अंसार से ईडी ने पूछताछ की थी।

यह भी पढ़ें:-यूपी: मुख्तार अंसारी की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, अब ED ने दर्ज किया मनी लांड्रिंग का केस

Advertisement
Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.