बरेली: जल्दबाजी में गई जान, भागकर ट्रेन पकड़ी तो फिसला पैर, दो हिस्सों में बंट गया शरीर

बरेली, अमृत विचार। उत्तर प्रदेश के बरेली जंक्शन पर बुधवार देर रात जल्दबाजी के चक्कर में एक युवक की जान चली गई। ट्रेन छूटने पर दौड़कर पकड़ते समय युवक का पैर फिसल गया और वह पटरियों पर जा गिरा। पहियों के नीचे आने की वजह से उसका शरीर दो हिस्सों में बंट गया। जिसकी वजह से उसकी मौके पर ही मौत गई। फिलहाल जीआरपी ने पंचनामा भर शव के लिए पोस्मार्टम को भेज दिया है। जीआरपी के मुताबिक युवकी शिनाख्त शैलेश यादव (35) के रुप में हुई है।

Advertisement

बाजार जानवर खरीदने जा रहा था शैलेश
मूल रूप से गाजीपुर के रहने वाले शैलेश यादव इन दिनों बरेली के इज्जतनगर नगर की डिफेंस कॉलोनी में रह रहे थे। शैलेश के पिता चंद्रिका सिंह रेलवे में लोकोपायलट की पोस्ट से रिटायट है। उन्होंने बताया कि शैलेश बुधवार शाम लखनऊ की तरफ जानवर खरीदने के लिए जा रहा था। साथ में और भी तीन-चार साथी थे। उसे प्रयागराज संगम उद्योग नगरी हरिद्वार से जाना था। साथी पहले ही ट्रेन में चढ़ गए। मगर शैलेश ट्रेन में नहीं चढ़ पाया। ट्रेन चल पड़ी तो शैलेश ने दौड़कर ट्रेन पकड़नी चाही। मगर उसका पैर फिसल गया।

लोग चीखते रहे मगर शैलेश नहीं माना
शैलेश के पिता चंद्रिका ने बताया कि जब वह ट्रेन पकड़ने के लिए दौड़ रहा था तो लोगों ने उसे मना भी किया। लोग चीख रहे थे कि ट्रेन तेज हो चुकी है। उसे पकड़ने की कोशिश मत करो। मगर उसने किसी की भी नहीं सुनी और वह ट्रेन पकड़ने के लिए दौड़ता रहा। नतीजा ट्रेन में चढ़ते वक्त उसका पैर फिसला और वह पटरियों पर जा गिरा। पटरियों पर गिरने की वजह से ट्रेन के पहिए उसे काटते हुए निकल गए। शैलेश की मौके पर ही मौत हो गई।

तलाशी में नहीं मिला कोई टिकट
जीआरपी इंस्पेक्टर अमीराम सिंह ने बताया कि शैलेश की जेब में यात्रा का कोई टिकट नहीं मिला। मगर परिवार वालों का कहना है कि वह जानवर खरीदने के लिए बाजार जा रहा था। जिसकी वजह से अब उसकी मौत पर भी सवाल खड़े हो गए है। हालांकि जीआरपी मामले में जांच पड़ताल कर रही है। बहराहाल परिवार में मौत की वजह से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

यह भी पढ़े-

शक्ति मिल्स सामूहिक बलात्कार मामला: तीन दोषियों को सुनाई गई मौत की सजा को उम्र कैद में किया गया तब्दील

Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *