अमेठी: इन्हौना को नगर पंचायत बनाए जाने की उठी मांग, उपजिलाधिकारी तिलोई को सौंपा गया ज्ञापन

अमेठी। सिंहपुर ब्लॉक क्षेत्र की ग्राम पंचायत इन्हौना को नगर पंचायत बनाने को लेकर ग्रामीणों ने उपजिलाधिकारी तिलोई को ज्ञापन सौंपा है। सिंहपुर ब्लॉक क्षेत्र इन्हौना कस्बे के निवासी नगर पंचायत बनाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष मो. आदिल के नेतृत्व में समिति के सदस्यों ने तहसील पहुंच कर उपजिलाधिकारी तिलोई शिवानी सिंह को ज्ञापन सौंप इन्हौना कस्बे को नगर पंचायत बनाए जाने की मांग की है।

Advertisement

उपजिलाधिकारी को दिए ज्ञापन में समिति के सदस्यों ने नगर पंचायत बनाने सम्बंधी तर्क भी प्रस्तुत किए हैं। दिए गए ज्ञापन में बताया गया है कि पूर्व में 1985-86 में इन्हौना कस्बे को नगर पंचायत का दर्जा दिया गया था लेकिन जिसे शासन ने 15 दिनों के भीतर पुनः वापस ले लिया गया था। कस्बे को नगर पंचायत बनाने के लिए पर्याप्त जनसंख्या भी मानक के अनुरूप है। इन्हौना कस्बे की वर्तमान में जनसंख्या लगभग बीस से पच्चीस हजार के करीब है।

ग्राम सभा इन्हौना की आबादी को देखते हुए नगर पंचायत बनाया जाय जिससे इन्हौना की जनता को नगरीय सुविधा मिल सके।उपजिलाधिकारी तिलोई शिवानी सिंह ने बताया कि नगर पंचायत बनाने संबंधी प्रस्ताव को उच्चाधिकारियों को भेज दिया जाएगा।इस अवसर पर रामप्रकाश शुक्ल, मो0 साहिल,इमरान, दिनेश यादव, सफीक अहमद,मुकेश, महताब खान ,मो. आरिफ समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

नवाब मलिक बोले- कुछ दिनों तक वानखेड़े के खिलाफ न ट्वीट करूंगा न दूंगा सार्वजनिक बयान

महाराष्ट्र में मंत्री एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता नवाब मलिक ने बृहस्पतिवार को बंबई उच्च न्यायालय से कहा कि वह स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े, उनके पिता और परिवार के सदस्यों के खिलाफ मामले के सुनवाई की अगली तारीख, नौ दिसंबर तक कोई ट्वीट नहीं करेंगे और न ही सार्वजनिक रूप से बयान देंगे।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें- नवाब मलिक बोले- कुछ दिनों तक वानखेड़े के खिलाफ न ट्वीट करूंगा न दूंगा सार्वजनिक बयान

Related

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *